top of page
  • लेखक की तस्वीरuma rawat

नाश्ते में बनायें चना दाल की स्वादिष्ट पूड़ियाँ-foodzlife.com

अपडेट करने की तारीख: 20 सित॰ 2023









उत्तर भारत के मुख्य व्यंजनों में चना दाल पूड़ी या कचोड़ी की अपनी ही एक अलग पहचान है, ये चना दाल पूड़ी अपने अतरंगी स्वाद की वजह से अपनी एक अलग पहचान छोडती हैं , इनका स्वाद इतना मजेदार होता है कि आपको इस उत्तर भारत की मिटटी, खान पान,रहन-सहन से इश्क हो जायेगा. उत्तर प्रदेश अपने चटपटे व्यंजनों की वजह से काफी प्रचलित है , जैसे की चना दाल भकोसा /फरा चने दाल की पुड़ियाँ, उरद दाल की रिकंवछ, बरिया/बरे, चावल के फरे, मटर का निमोना, बूट/हरे चने का निमोना इत्यादी . बहुत लम्बी लिस्ट है इन व्यंजनों की तो हम इसकी चर्चा कभी और करेंगे. तो जब बात आती है चने दाल की पूड़ियों की तो ज़हन में बस एक ही ख़याल आता है की चाय की चुस्कियों के साथ तेल से निकली हुई गर्मागर्म कुरकुरी चने की दाल की चटपटी पूड़ियाँ. जिसको खाकर कोई भी इनका मुरीद हो जायेगा क्यूंकि ये बनती ही इतनी ज्यादा स्वादिष्ट हैं. थोड़ी सी चना दाल की चटपटी भरावन और गेहूं के आटे के ऊपरी कवर से ये बनाई जाती है, और तल कर खायी जाती हैं , यदि आपको तले खाने से परहेज है तो आप बिल्कुल भी चिंता न करें क्यूंकि ये पूड़ियाँ तवे पर सेक कर भी खायी जाती हैं, इनका स्वाद तब भी बेमिसाल होता है किसी भी हरी, लाल चटनी के साथ परोसें. प्रोटीन से भरपूर ये चने की दाल की पूड़ियाँ बड़ों से लेकर बच्चों तक की फेवरेट होती हैं और इन्हें बनाना भी उतना ही आसान.









आवश्यक सामग्री :


  • 1 कप चना दाल

  • 2 कप गेहूं का आटा

  • 6 लहसुन की कलियां

  • 4 हरी मिर्च

  • 1/2 टीएसपी जीरा

  • 1/4 टीएसपी हींग

  • 1/4 टीएसपी धनिया पाउडर

  • 1/4 टीएसपी लाल मिर्च पाउडर

  • 1/2 टीएसपी हल्दी पाउडर

  • 1 टीएसपी कसूरी मेथी

  • नमक स्वादानुसार काला नमक स्वाद के अनुसार

  • 1.5 टीएसपी सरसों का तेल तडके के लिए

  • अतिरिक्त तेल तलने के लिए




बनाने की विधि :


भरावन तैयार कर लेंगे-

  • 1 कप चने की दाल को साफ़ कर के अच्छे से पानी में धुल कर एक गहरे पानी से भरे बर्तन में रात भर के लिए या कम से कम 5 से 6 घंटों के लिए भिगो कर रख दें '



  • चने की दाल को फूल जाने के बाद अगली सुबह पानी से बाहर निकाल कर दोबारा से धुल कर एक छन्नी में रख लें



  • एक पैन में डेढ़ चम्मच सरसों का तेल गरम करें, तेल गरम होते ही उसमे जीरा डालकर चटखने दें, जीरा चटखते ही हींग मिला दें और आंच को कम रखें

  • 10 सेकंड के बाद तेल में चने की दाल मिला दें और कलछी की सहायता से दाल को लगभग 1 मिनट के लिए फ्राई करें और इस समय आंच को का कम रखेंगे ,

  • अब दाल में लहसुन को छील कर मिला दें और हरी मिर्च को उनके डंठल से अलग करें और उनको भी दो से तीन टुकड़ों में तोड़कर मिला दें , और मिक्स कर लें



  • नमक और काला नमक मिला लें स्वादानुसार और अब मिक्स करते हुए भून लें

  • दाल को ढक्कन लगाकर 2 मिनट के लिए कम आंच पर पका लें

  • 2 मिनट के बाद ढक्कन हटाकर दाल को थोडा अलट पलट लें और अब धनिया पाउडर और लाल मिर्च पाउडर भी मिला लें,

  • 1 मिनट के लिए दाल को भून लें और अब चूल्हे की आंच को बंद कर दें ,

  • दाल को ठंडा कर के बारीक पीस लें




,

आटा लगा लेंगे-


  • 2 कप आटा एक बड़ी परात में डालें , ऊपर से कसूरी मेथी को थोडा मसल कर दाल दें , आधी छोटी चम्मच नमक और आधी छोटी चम्मच हल्दी मिला लें ताकि पूड़ियों में एक अच्छा सुनेहरा रंग आये.

  • आवश्यकतानुसार पानी मिलाते हुए एक नरम आटा लगा कर तैयार कर लें. अगर आप चाहते हैं पूड़ियाँ थोडा ज्यादा कुरकुरी बने और आपको ज्यादा तेल से भी कोई परहेज़ नहीं है तो आप इस आटे के अन्दर 4 चम्मच या कम से कम 3 चम्मच तेल मिला लें.यानि कि तेल या घी के मोअन से पूड़ियाँ करारी बनती हैं.

  • आटा तैयार करने के बाद उसमे उपर से हल्का तेल लगा कर 10 मिनट तक ढक कर आराम पर रखें .


.




तलने की तैयारी-

  • 10 मिनट के बाद आटे को छोटी छोटी लोइयों में तोड़कर अलग कर लें, लोई का एक हिस्सा लेकर उसको चिकना करें और उसको बॉल बनाकर थोडा चपटा कर के पेड़ा बना लें, आटे के पेड़े को अपने हाथों की सहायता से किनारों से पतला करते हुए बड़ा कर लें, या फिर छोटी पूड़ी बेल लें,



  • अब उसके अंदर पीसी हुई चने की दाल की भरावन को भर लेंगे और आटे को चारो तरफ से बंद कर के एक पोटली नुमा गेंद बना लेंगे, अब हलके हाथों से उस दाल से भरी पोटली को चपटा करेंगे और सूखा आटा लगाकर पूड़ी के साइज़ का बेल लेंगे.



  • इसी तरह से बाकी की दाल की पुड़ियाँ भी तैयार कर लेंगे,



  • अब एक गहरी कढ़ाई में तेल गर्म करेंगे तेज़ आंच पर और उसके बाद आंच को कम करेंगे और दाल की पूड़ियों को गरम तेल में डालकर सुनेहरा भूरा और कुरकुरा होने तक तल लेंगे, पूड़ी तलते समय आंच को कम से हल्का सा ज्यादा की तरफ रखेंगे , क्यूंकि ज्यादा तेज आंच में पूड़ी करारी नहीं बनेंगी. पूड़ी पलटते समय उपर से तेल भी डाले .




  • इसी तरह बाकी की सभी पूड़ियाँ तैयार कर लेंगे और गर्मागर्म परोसेंगे किसी भी हरी या लाल चटनी के साथ.





कुछ ध्यान देने योग्य बातें-


  • चने की दाल को कम से कम 3 से 4 घंटे पानी में भिगोना आवश्यक है,

  • आटा लगते समय ये ध्यान रखें की आटा मुलायम लगायें सख्त नही, अगर आटा सख्त होगा तो भरावन बहार आयेगी बेलते वक़्त

  • पूड़ियों को तलते वक़्त आपने आंच का बराबर ध्यान रखना है, तेल अच्छा गरम करें, पूड़ी को तेल में डालते वक़्त आंच को बिलुल कम पर रखें और कम आंच में ही पूड़ियों को सुनेहरा होने तक तल लें

अगर आप इन सभी बातों का बराबर ध्यान रखेंगे तब आपसे ये चने की दाल भरी पुड़ियाँ बहुत ही अच्छी बनेंगी और बनाते वक़्त भी कोई परेशानी नहीं होगी.


HAPPY COOKING

धन्यवाद



चना दल पूड़ी का विडियो यहाँ देखें , ऐसे और भी लाजवाब रेसिपीज को देखने के लिए हमारे YOUTUBE चैनल FoodzLife को सब्सक्राइब करें.


हैशटैग




13 दृश्य0 टिप्पणी

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें

コメント

5つ星のうち0と評価されています。
まだ評価がありません

評価を追加

pickle

20190608_155207.jpg
खम्मन ढोकला | Khaman Dhokla recipe in hindi | Gujrati dish

खम्मन ढोकला गुजरात की एक फेमस डिश है यह खाने क्रिस्प और सॉफ्ट है आप यह रेसिपी किसी भी ख़ास मौके पर बना सकते है